Buy Blue Sapphire Stone (नीलम रत्न) with Certificate

Buy genuine Blue Sapphire (नीलम राशि रत्न) Gemstone

SKU: 5001 Categories: , Tag:

Description

नीलम (Blue Sapphire Stone) रत्न क्या होता है?

नीलम रत्न एक बहुत ही कीमती और रहस्यमय राशि रत्न होता है. सदियों से इसका उपयोग वैदिक ज्योतिष में होता आ रहा है. इसके नीले रंग की वजह से ही इसका नाम नीलम रत्न रखा गया है. ज्योतिषीय उपायों के अलावा इसका प्रयोग गहने बनाने में भी आता है. अगर आप भी सोच रहें हैं की असली नीलम राशि रत्न कहाँ से खरीदें तो यह लेख आपको सही निर्णय करने में मदद करेगा।

क्या हमें शनि ग्रह से डरना चाहिए?

शनि को एक अशुभ, मारक और दुःख कारक मन जाता है. पर सच यह है की शनि कर्मफल दाता ग्रह है. यह जातक को उसके अच्छे और बुरे कर्मों के अनुसार फल देता है. इसलिए बहुत से लोग शनि ग्रह से डरते हैं.

ऐसा देखा गया है की शनि के प्रभाव चाहे वो अच्छे हो या बुरे, दोनों ही लम्बे समय तक असर करते हैं. ऐसा इसलिए भी होता है क्यूँकि शनि एक धीरे चलने वाला ग्रह है. और इन्ही कारणों की वजह से वजह से ही शनि को वैदिक ज्योतिष में एक प्रमुख स्थान दिया गया है.

इस कीमती रत्न की शक्तियों के प्रभाव से आपको तुरंत फल मिलना शुरू हो जाता है. पर अक्सर कई लोग अज्ञानता की वजह से इस रत्न से डरते हैं.

नीलम राशि रत्न की रहस्यमय शक्तियां कौनसी है?

इस राशि रत्न के प्रभाव तुरंत मिलने शुरू हो जाते हैं. इसमें रंक को राजा बनाने की भी ताकत होती है. अर्थात इसकी शक्तियों से किस्मत पलटी जा सकती है. कई किस्से कहानियों में बताया जाता है की कैसे नीलम राशि रत्न पहनने के बाद किसी की किस्मत ने पलटा खाया या किस तरह से पहनने वाला बर्बाद हो गया. अगर किसी को भी नीलम धारण करने के बाद बुरे सपने आने लगे, नुक्सान या एक्सीडेंट होने लगे तो उसे तुरंत नीलम रत्न को त्याग देना चाहिए।

नकली नीलम धारण करने से भी नुक्सान होना संभव है. इसलिए ही आपको नीलम पहनने से पहले किसी अच्छे ज्योतिष से परामर्श लेना चाहिए।

अनुभवी ज्योतिषी से ऑनलाइन परामर्श लें – यहाँ क्लिक करें 

नीलम राशि रत्न और शनि ग्रह

नीलम चमक लिए हुए नीले रंग का बहुत ही खूबसूरत राशि रत्न होता है. इसकी अलौकिक आभा और नीले रंग की वजह से ही इसे शनि ग्रह का रत्न माना जाता है. नीलम रत्न हीरे के बाद में सबसे सुन्दर रत्न होता है. यह मकर और कुम्भ राशि के जातकों के लिए विशेषतः लाभकारी होता है.

यह आकर्षक और रहस्यमय रत्न कीमती और दुर्लभ होता है. सदियों से नीलम रत्न के साथ कई किस्से कहानियां जुड़े हुए हैं.

ब्लू सफायर स्टोन (Blue Sapphire Stone) को हिंदी में क्या कहते हैं?

ब्लू सफायर स्टोन को हिंदी में नीलम, नीलम रत्न या नीलम राशि रत्न भी कहा जाता है.

नीलम राशि रत्न किसको धारण करना चाहिए?

अगर आपकी शनि की साढ़े साती, ढैय्या, दशा या महादशा चल रही है तो आपको नीलम राशि रत्न धारण करने से लाभ हो सकता है. यह राशि रत्न किसी भी राशि के जातक पहन सकते हैं. परतुं आपको नीलम रत्न पहनने से पहले एक अनुभवी ज्योतिषी से परामर्श जरूर लेना चाहिए.

अगर आपको भी निम्न में से कोई एक या अधिक अनुभव हो रहे हों तो नीलम पहनने से आपको लाभ हो सकता है. अधिक जानकारी के लिए आप अनुभवी ज्योतिषी से ऑनलाइन परामर्श ले सकते हैं.

  • अगर आप मानसिक परेशानियों से घिरे रहते हों
  • अत्यधिक तनाव, सांस लेने में परेशानी, आँखों में तकलीफ इत्यादि बीमारियों से ग्रसित हों
  • संपत्ति का लगातार नुक्सान हो रहा हो
  • घर परिवार में हमेशा तनाव बना रहता हो
  • व्यापार में अचानक घाटा हो रहा हो
  • अत्यधिक बाल झड़ने लगे हों
  • जूते चप्पल चोरी होना या टूटना
  • चोरी या बेईमानी के आरोप लगना
  • आप अत्यधिक बीमार रहने लगे हो
  • किसी दुर्घटना में हड्डियां टूट गयी हों
  • लगातार चिड़चिड़ाहट रहने लगी हो
  • पेट में पथरी की समस्या हो
  • पाँव में या नसों में कमज़ोरी रहने लगी हो
  • नपुंसकता
  • मन में वैराग्य भाव आते हों
  • गरीबी से पीछा नहीं छूट रहा हो
  • आलस्य की अधिकता हो
  • नींद अधिक आती हो

नीलम राशि रत्न और वैदिक ज्योतिष

नीलम रत्न धारण करने से शनि ग्रह के नकारात्मक प्रभाव कम हो जाते हैं. यह उन लोगो के लिए भी अत्यंत लाभकारी है जिन की जन्मकुंडली में शनि ग्रह अपने पूरे सकारात्मक प्रभाव नहीं दे रहा हो. इनके अलावा अगर किसी जातक की सादे साती, ढैय्या या महादशा चल रही हो तो नीलम राशि रत्न पहनने से विशेष लाभ होता है.

कैसे पता करें की नीलम रत्न असली है?

आपको हमेशा किसी विश्वनीय शॉप से ही राशि रत्न खरीदने चाहिए. एक उपभोक्ता होने के नाते सर्टिफिकेट की मांग करना आपका हक़ है. अब आप नीलम रत्न ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं. ध्यान रहे की नीलम एक महंगा और दुर्लभ रत्न है. अगर कोई आप को सस्ता नीलम रत्न बेचने की कोशिश करता है तो उसकी अच्छी तरह जांच पड़ताल करना न भूलें.

असली नीलम रत्न कहाँ से खरीद सकते हैं?

 

बाजार में कई लोग नकली नीलम रत्न सस्ते दाम पर बेचते हैं. पर इस नकली नीलम को पहनने से नुकसान भी हो सकता है. यह दुर्लभ और महंगा रत्न किसी विश्वनीय शॉप से ही खरीदना चाहिए।

जब आप Gemstone.JaipurLove.com से नीलम रत्न  खरीदते हैं तो हम आपको सिर्फ असली लेबोरेटरी टेस्टेड नीलम रत्न ही भेजते हैं ताकि आपको जल्द से जल्द सकारात्मक प्रभाव मिल सके. आपको बस नीलम राशि रत्न का वजन और बजट हमको बताना होगा और हम आपको असली राशि रत्न भेज देंगे.

नीलम राशि रत्न से संबंधित आमतौर पर पूछे जाने वाले प्रश्न:

 

  1. नीलम राशि रत्न कितने वजन का पहनना चाहिए? आमतौर पर नीलम का वजन जातक के वजन का 1/10 वां हिस्सा बराबर होना चाहिए. अगर जातक का वजन 100 किलो है तो उसको 9 रत्ती का नीलम रत्न धारण करने से अधिकतम लाभ होगा. परन्तु इसका सटीक जवाब एक अनुभवी ज्योतिषी जन्मकुंडली जांच कर ही बता सकते हैं.
  2. नीलम राशि रत्न का शुद्धिकरण कैसे कर सकते हैं? जिस भी दिन नीलम धारण करना हो उस दिन सुबह नीलम को एक कटोरी दूध, घी, शहद, गंगाजल और दही में एक घंटे के लिए डुबो कर रखना चाहिए. उसके बाद उसे अच्छी तरह धो कर शनि मन्त्र का उच्चारण करते हुए पहन सकते हैं.
  3. नीलम राशि रत्न किस उंगली में धारण करना चाहिये? अगर आप नीलम रत्न के अधिक से अधिक लाभ लेना चाहते हैं तो सीधे हाथ की मध्यमा उंगली में नीलम धारण करें. महिलायें उलटे हाथ की अनामिका उंगली में धारण कर सकती हैं.
  4. नीलम राशि रत्न किस धातु में धारण करने से अधिक लाभ होता है? नीलम राशि रत्न सोने या पंचधातु में पहनना चाहिए.
  5. नीलम किस दिन और समय में धारण करना उचित रहता है? नीलम को शनिवार के दिन जल्दी सुबह 10 बजे पहले पहले धारण करना चाहिए. सटीक मुहूर्त का समय और दिवस पता करने के लिए आप को किसी पंडित या ज्योतिष से परामर्श करना चाहिए.

अधिक जानकारी के लिए आप हमारी ऑनलाइन ज्योतिष सेवा का प्रयोग कर सकते हैं. शनि ग्रह और नीलम रत्न जातक को अधिक मेहनत करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं. अतः आप भी नीलम रत्न धारण करने के बाद विश्वास के साथ मेहनत करे और मनमाफिक परिणाम आपको जरूर मिलेंगे।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Buy Blue Sapphire Stone (नीलम रत्न) with Certificate”

Your email address will not be published. Required fields are marked *